so, what’s your goal in life?

तद दुम्म तद्दुम ता तद दुम्म ता
तद दुम्म तद्दुम ता तद दुम्म ता (x3)

सूरज जैसे चमकेंगे
देक्खे हैं साड्डी अंखियां ने
एह सपने अम्बरां दे
एह सपने अम्बरां दे

बूंद-बूंद जोड़ेंगे पल-पल
दूर-दूर बह जाएंगे
फिर नाल समन्दरां दे
फिर नाल समन्दरां दे

अस्सी एथे खड़े
है जाना परे
ना कम हमको तोल
अस्सी ज़िद ते अड़े
जनूनी बड़े
एह दिल के ने बोल

एक जिन्दड़ी मेरी
सौ ख़्वाहिशां
इक-इक मै पूरी करां (x2)
आ एक जिन्दड़ी मेरी
सौ ख़्वाहिशां
मुश्किल हमें रोकना

शहरों जैसे बन जाएंगे
लगदे ने जो छोटे-छोटे
एह रास्ते गलियां दे
एह रास्ते गलियां दे
फूलों की तरहा महकेंगे
हौले-हौले यारों
एक दिन मौसम गलियां दे
एह मौसम गलियां दे

अभी, ना जाने कोई,
पहचाने कोई,
है क्या अपना मोल
अस्सी ज़िद ते अड़े
जनूनी बड़े
एह दिल के ने बोल

आ एक जिन्दड़ी मेरी
सौ ख़्वाहिशां
इक-इक मै पूरी करां (x2)
एक जिन्दड़ी मेरी
सौ ख़्वाहिशां
मुश्किल हमें रोकना

रात है कजले वाली
दूर बड़ी दिवाली
दिवे ढूंढे अंखियां
दिल वाले घोसले में
पंछी बनाके यारों
हमने उम्मीदां रखियां

मैंने हारना नहीं है
चाहे कुछ भी कहे दुनिया

तद दुम्म तद्दुम ता तद दुम्म ता
तद दुम्म तद्दुम ता तद दुम्म ता (x2)
तद दुम्म तद्दुम
तद दुम्म तद्दुम
तद दुम्म तद्दुम
तद दुम्म तद्दुम


राकेश कुमार
Singer: तनिष्का संघवी
Film: हिंदी मीडियम (May 2017)
URL: https://www.youtube.com/watch?v=N0FLIsU8nxY

Advertisements

मुसाफिर?

मैं मुसाफिर बनूं, रास्ता हो तेरा
मंज़िलों से मेरी, वास्ता हो तेरा

रोशनी से तेरी, हो सवेरा मेरा
तू जहां भी रहे, हो बसेरा मेरा

यहां मेरे तेरे सिवा
है न दूजा कोई रे
अकेला मुझे छोड़ के
न जाना यूं निरमोही रे

हो कहानी मेरी, तर्जुमां हो तेरा
हो दुआएं तेरी, सर झुका हो मेरा

राज़ में भी तेरे, सच छुपा हो मेरा
मै कमाई जोडूं, क़र्ज़ अदा हो तेरा

यहां मेरे तेरे सिवा
है न दूजा कोई रे
अकेला मुझे छोड़ के
न जाना यूं निरमोही रे


अमिताभ भट्टाचार्य
Jul 10, 2017